Tag Archives: willing

Will Fight My Destiny Unto Death

Standard

 बड़ी दूर दिखती है ज़िन्दगी की खुशियाँ

हमने जलाई हर पल गमो की लड़ियाँ 

 
जाने कब किस दौर में ख़त्म होगा इंतज़ार
 
अब तो उम्र का हर मोड़ होता बेकरार
 
 
इन्तेहाँ हो चली सोचते सोचते यह बात
 
ज़िन्दगी की हर बाज़ी में क्यूँ खाई मात
 
 
 ख़त्म हो चुका हर आस पर से विश्वास
 
जीने की तमन्ना भी नहीं आती अब रास
 
 
येही नियति है अगर, और है येही किस्मत
 
तो जानलो इसमें भी जी लुंगी मरते दम तक